HomeBreaking Newsधार्मिक स्थलों में महिलाओं द्वारा उत्पादित दोना, पत्तल, टोकरी आदि की ब्रिकी...

धार्मिक स्थलों में महिलाओं द्वारा उत्पादित दोना, पत्तल, टोकरी आदि की ब्रिकी के लिए बनेगी कार्ययोजना, सभी पात्र हितग्राहियों को राशन, पेंशन की सुविधा से करे लाभान्वित: कलेक्टर श्रीमती साहू

खरीफ सीजन के लिए पर्याप्त मात्रा में खाद-बीज का करे भण्डारण, कलेक्टर श्रीमती साहू ने साप्ताहिक समीक्षा बैठक में दिये निर्देश

छत्तीसगढ़/कोरबा :-  कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने स्व सहायता समूह की महिलाओं को स्वरोजगार से जोडने तथा प्लास्टिक के उपयोग को रोकने के लिए बडी पहल की है। उन्होने धार्मिक स्थलों में महिलाओं द्वारा उत्पादित दोना, पत्तल, टोकरी, अगरबत्ती आदि की बिक्री के लिए कार्य योजना बनाने के निर्देश अधिकारियों को दिये है। कलेक्टर श्रीमती साहू ने जिले के धार्मिक स्थलों मॉ सर्वमंगला मंदिर, मॉ मडवारानी मंदिर तथा चैतुरगढ स्थित मंदिरों में स्व सहायता समूह की महिलाओं द्वारा बनाये जा रहे उत्पादो की बिक्री के लिए मंदिर समितियों के सदस्यों की बैठक लेकर आवश्यक कार्य योजना बनाने के निर्देश अधिकारियों को दिये है। धार्मिक स्थलों में पेड के पत्ते, बांस आदि प्राकृतिक चीजों से निर्मित दोना, पत्तल, टोकरी की बिक्री से प्लास्टिक के उपयोग करने से बचत होगी। साथ ही महिला समूहों को स्वरोजगार भी मिलेगा। कलेक्टर श्रीमती साहू ने समय सीमा की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में सभी पात्र हितग्राहियों को राशन, पेंशन, वन संसाधन अधिकार आदि की सुविधा से लाभान्वित करने के निर्देश अधिकारियों को दिये। उन्होने डोर-टू-डोर सर्वे करके ऐसे हितग्राहियों की गांववार सूची बनाकर नागरिकों को राशन, पेंशन आदि की सुविधाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। कलेक्टर श्रीमती साहू ने बैठक में पेंशन के स्वीकृत प्रकरण, पेंशन के लंबित भुगतान तथा राशन-पेंशन के लिए पात्र हितग्राहियों की सर्वे से संबंधित पूर्व में दिये गये निर्देश की अद्यतन स्थिति की जानकारी ली। उन्होने स्वीकृत पेंशन और पेंशन के लंबित भुगतान के लिए डोर-टू-डोर किये जा रहे सत्यापन कार्य में धीमी प्रगति पर नाराजगी जताई। कलेक्टर ने सभी पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित करने के लिए सर्वे के कार्य को तेजी से पूरा करने के निर्देश बैठक में मौजूद अधिकारियों को दिये। समय-सीमा की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री भोजराम पटेल, डी.एफ.ओ. कोरबा श्रीमती प्रियंका पाण्डेय, डीएफओ कटघोरा श्रीमती प्रेमलता यादव, जिला पंचायत के सी.ई.ओ. श्री नूतन कंवर, प्रभारी एडीएम श्री विजेन्द्र पाटले, नगर निगम आयुक्त श्री प्रभाकर पाण्डेय सहित सभी विभागीय अधिकारीगण मौजूद रहे।

कलेक्टर श्रीमती साहू ने समय सीमा की समीक्षा बैठक में आगामी खरीफ सीजन के लिए पर्याप्त मात्रा में खाद-बीज का भण्डारण करने का निर्देश कृषि विभाग के अधिकारियों को दिये। उन्होने किसानों की सहुलियत के लिए तथा पर्याप्त मात्रा में खाद-बीज की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए सहकारी समितियों में आवश्यक खाद और फसल बीजो का भण्डारण करने के निर्देश दिये। साथ ही किसानो की सहुलियत के लिए समितियों में खाद-बीज के उठाव की सुचारू व्यवस्था सुनिश्चित करने के भी निर्देश अधिकारियों को दिये। कलेक्टर ने बैठक में दर्री बरॉज में बन रहे समानान्तर पुल के निर्माण कार्यो के प्रगति की भी समीक्षा की। उन्होने समानान्तर पुल के निर्माण कार्यो को तेजी से पूरा करने के निर्देश दिये। कलेक्टर श्रीमती साहू ने बैठक में समय सीमा के बाहर लंबित राजस्व प्रकरणों की भी समीक्षा की। उन्होने नामान्तरण, सीमांकन, फौती, बटवारा आदि राजस्व प्रकरणों को तेजी से निराकरण करने के निर्देश दिए। साथ ही राजस्व अभिलेखों का ऑनलाईन रिकार्ड दुरूस्तीकरण करने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने राजस्व प्रकरणो के निराकरण और ऑनलाईन रिकार्ड दुरूस्तीकरण की नियमित समीक्षा करने के निर्देश सभी अनुविभागीय अधिकारियों को दिये। कलेक्टर ने जिले के स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मिडियम स्कूलों में चल रहे निर्माण कार्यों के प्रगति की भी समीक्षा की। उन्होंने स्कूल भवनों में मरम्मत, रंग-रोगन, विद्युतीकरण, शौचालय निर्माण, पुस्तकालय, मैदान समतलीकरण आदि अधोसंरचना के कार्यों को तेजी से पूरा करने के निर्देश सभी जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को दिए।

Must Read